टेलीविजन का आविष्कार किसने किया था ?

टेलीविजन का आविष्कार किसने किया था

टीवी का आविष्कार किसने किया ? क्या आप जानना चाहते है की टेलीविजन का आविष्कार किसने किया और कब किया, अगर हाँ तो आप बिलकुल सही जगह पर आये है, आज में आपको टीवी का आविष्कार किसने किया के बारे में पूरी जानकारी दूंगा

टेलीविजन तो बहुत सालो से देखा जा रहा है और आज भी लोग देखते है, लेकिन आज के दौर में टीवी से ज्यादा लोग मोबाइल फ़ोन का ज्यादा इस्तेमाल करते है, पहले लोग टीवी में ही कोई भी Movie देखा करते थे लेकिन आज के समय में लोग अपने Mobile फ़ोन या कही बाहर थिएटर में जाकर Movie देखते है

जरुरी नहीं है की जो अतीत में होता था वो वर्तमान में भी किया जाये, जैसे-जैसे तकनीक बदल रही है, वैसे-वैसे कई नई चीजें भी देखने को मिल रही हैं।

अब टीवी का उपयोग बहुत कम ही किया जाता है जिसकी वजह से बहुत सारे T.V Show की TRP भी गिरने लगी है

आखिर टीआरपी का गिरना तय है, लोग टीवी शो कम देखेंगे तो टीआरपी जरूर गिरेगी, अब लोग धीरे-धीरे मोबाइल की तरफ शिफ्ट हो रहे हैं और अब लोगों की दिलचस्पी मोबाइल पर ही टीवी शो और मूवी देखने में होने लगी है।

अब यह देखना बाकी है कि लोग भविष्य में भी टीवी देखना पसंद करेंगे या नहीं, या यह टीवी का अंत हो सकता है, क्योंकि अब फिल्में, टीवी शो या समाचार देखना है, तो लोग मोबाइल में ही सब कुछ देखते हैं।

टीवी एक अद्भुत आविष्कार है क्योंकि जैसे ही आप इसे चालू करते हैं, आप अपने मूड के अनुसार चैनल बदलकर कुछ भी देख सकते हैं, और आप अपने मूड को तरोताजा कर सकते हैं।

टेलीविजन क्या है | What is Television in Hindi

एक बॉक्स के आकार में विद्युत उपकरण का एक टुकड़ा। इसमें एक ग्लास स्क्रीन है जो चलती तस्वीरों और ध्वनियों के साथ प्रोग्राम दिखाती है

टेलीविजन आधुनिक संस्कृति का एक अनिवार्य हिस्सा है, जिसमें आप खेल, समाचार, कॉमेडी और फिल्में जैसी सभी चीजें देख सकते हैं।

यदि इसे सरल शब्दों में समझा जाए तो टेलीविजन (TV) एक दूरसंचार माध्यम है जिसका उपयोग वीडियो के माध्यम से चलती छवियों को दिखाने के लिए किया जाता है और यह प्रत्येक छवि में ध्वनि भी लाता है, इसे टेलीविजन कहा जाता है।

आप अपने हिसाब से कोई भी चैनल बदलकर टेलीविजन में कुछ भी देख सकते हैं, इसे एक अद्भुत आविष्कार कहा जा सकता है, क्योंकि टेलीविजन में आप हर वीडियो से जुड़ी आवाज को उसके साथ ही सुनते हैं, तभी आपको उसे देखने में मजा आता है।

मान लीजिए अगर किसी वीडियो के साथ ध्वनि का मेल नहीं होता तो इसे कोई देखना ही पसंद नहीं करता, क्योंकि किसी भी वीडियो में हमें ध्वनि भी सुनने को मिलती है, तभी लोग टीवी देखना पसंद करते हैं।

ध्वनि चित्र के साथ चलती है इसलिए लोग इसे देखना पसंद करते हैं, टेलीविजन एक अद्भुत उपकरण है जिसका उपयोग ध्वनि और चित्र प्राप्त करने के लिए किया जाता है, जब ध्वनि और चित्र एक साथ चलते हैं तो सभी को देखने में भी आनंद आता है इसीलिए इसका नाम टेलीविजन दिया गया

Television का अविष्कार किसने किया था

टेलीविजन का अविष्कार फिलो टेलर फर्नवर्थ सेकंड (Philo Taylor Farnsworth II) ने किया था

इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन को पहली बार 7 सितंबर, 1927 को सैन फ्रांसिस्को में सफलतापूर्वक प्रदर्शित किया गया था। इस प्रणाली को 21 वर्षीय आविष्कारक (Philo Taylor Farnsworth II) द्वारा डिजाइन किया गया था, जो 14 वर्ष की उम्र तक बिजली के बिना घर में रहता था।

फिलो टेलर फार्नवर्थ सेकेंड ने पहले टेलीविजन का आविष्कार किया और इस आविष्कार को एक अद्भुत आविष्कार कहा जा सकता है जिसमें आप चित्र के साथ ध्वनि को चलते हुए देखते हैं।

अगर आप सर्च करेंगे कि टीवी का आविष्कार किसने किया तो आपको 3 नाम दिखाई देंगे, जिनमें से पहला नाम फिलो फार्नवर्थ, दूसरा नाम चार्ल्स फ्रांसिस जेनकिंस और तीसरा नाम जॉन लोगी बेयर्ड दिखाया जाएगा, लेकिन इसमें केवल एक या तीन लोगों को ही इस आविष्कार का श्रेय नहीं दिया जाता है, इसमें कई आविष्कारक इस तकनीक के लिए श्रेय के पात्र हैं।

इस आविष्कार के दौरान टीवी एक साधारण छोटे बॉक्स की तरह था जिसमें आप केवल श्वेत-श्याम छवि के साथ ध्वनि देख और सुन सकते थे, लेकिन आज, कई अलग-अलग प्रकार के स्लिम टीवी आ गए हैं और पहले के आकार के अनुसार बहुत बड़े भी है

जैसे-जैसे तकनीक आगे बढ़ी, टीवी का आकार भी बदल गया, पहले के टीवी एक छोटे बॉक्स की तरह थे, वही टीवी आज के टीवी में बहुत बदल चूका है

पहले ब्लैक एंड व्हाइट इमेज दिखाने वाले टीवी आते थे लेकिन आज वही इमेज कलरफुल में बदल गई है

हर वैज्ञानिक की अपनी एक अलग पहचान होती है और इस आविष्कार का श्रेय सिर्फ एक वैज्ञानिक को नहीं दिया जा सकता, इस आविष्कार में कई वैज्ञानिकों और इंजीनियरों ने मिलकर इस आविष्कार को सफल बनाया।

Television का आविष्कार कब हुआ था

इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन को पहली बार 7 सितंबर, 1927 को सैन फ्रांसिस्को में सफलतापूर्वक प्रदर्शित किया गया था। इस प्रणाली को 21 वर्षीय आविष्कारक फिलो टेलर फार्नवर्थ द्वारा डिजाइन किया गया था, जो 14 वर्ष की उम्र तक बिजली के बिना घर में रहता था।

जैसा कि मैंने आपको बताया कि टेलीविजन का आविष्कार एक अद्भुत आविष्कार था, इसे सफल बनाने के लिए कई वैज्ञानिकों और इंजीनियरों ने मिलकर काम किया और इसे सफल बनाया।

टेलीविजन का आविष्कार रेडियो के बाद हुआ था और इसे एक अद्भुत आविष्कार माना जाता है, शुरुआत में छोटे लकड़ी के बक्से जैसा टेलीविजन आया और आज यह आकार में बड़ा हो गया है और रंगीन छवि और ध्वनि दिखाता है।

आज की बात करें तो टेलीविजन ना सिर्फ आकार में बड़ा और पतला हो गया है, बल्कि इसमें कई सारे फीचर आ गए हैं और आने वाले समय में आपको और भी नए फीचर देखने को मिलेंगे

भारत में पहली बार टीवी कब आया?

भारत में पहली बार टेलीविजन 15 सितंबर 1959 को शुरू किया गया। शुरुआत में एक घंटे के कार्यक्रम सप्ताह में दो बार प्रसारित किए जाते थे।

सबसे पहला टीवी कब बना था?

दुनिया का पहला कामकाजी टेलीविजन 1927 में फिलो फार्नवर्थ द्वारा बनाया गया था और 1 सितंबर 1928 को प्रेस के सामने प्रस्तुत किया गया था।

टीवी के आविष्कारक का नाम क्या है?

अगर आप टीवी के आविष्कारक का नाम खोजेंगे तो आपको पता चलेगा कि न केवल टीवी के आविष्कारक फिलो फार्नवर्थ, बल्कि 2 और आविष्कारकों के नाम दिखाई देंगे और उनका नाम जॉन लोगी बेयर्ड, चार्ल्स फ्रांसिस जेनकिंस, और सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि टीवी के अविष्कार के पीछे कई वैज्ञानिकों का भी हाथ है।

जैसा कि अब आप अच्छी तरह से जान गए होंगे कि टेलीविजन का आविष्कार किसने किया और कब, टेलीविजन के आविष्कार के पीछे कई वैज्ञानिक थे लेकिन किसी एक वैज्ञानिक को पूरा श्रेय देना उचित नहीं होगा, इसमें कई वैज्ञानिकों का हाथ था।

Leave a Comment